Jalore

बावतरा में कैवायामाता मंदिर का वार्षिक महोत्सव 24 से, तो क्रिकेट प्रतियोगिता का शुभारंभ 17 मार्च से …सहित सायला क्षेत्र की आज की विशेष खबरे

बावतरा में कैवायमाता मंदिर का वार्षिक महोत्सव 24 से
सायला।
निकटवर्ती बावतरा स्थित दहिया राजवंश की कुलदेवी कैवायमाता मन्दिर का दसवां वार्षिक महोत्सव 24 व 25 फरवरी 2021 को हर्षोल्लास के साथ मनाया जाएगा।
मंदिर प्रबंधन समिति के अध्यक्ष उकसिंह दहिया ने बताया कि महोत्सव के निमित 24 फरवरी बुधवार को भक्ति संध्या का आयोजन होगा। जिसमें भजन कलाकार ओम प्रजापत बालोतरा एंड पार्टी और मानवेन्द्रसिंह दहिया वालेरा द्वारा प्रस्तुति दी जाएगी। भजन संध्या में वार्षिक चढ़ावे की बोलियां भी बोली जाएगी। वही 25 फरवरी गुरूवार को अभिजीत मुहूर्त में मंदिर शिखर पर अमर ध्वजा के लाभार्थी छैलसिंह पुत्र दीपसिंह दहिया परिवार चैराऊ द्वारा वार्षिक ध्वजा चढ़ाई जाएगी। इस मौके महाप्रसादी का आयोजन होगा। वही कोरोना महामारी को ध्यान में रखते हुए समाजबंधुओं को मास्क लगाकर आने एवं दो गज की दूरी के नियम की पालना करने का आग्रह किया है।

सायला में क्रिकेट प्रतियोगिता 17 मार्च से
सायला।
उपखण्ड मुख्यालय पर स्थित खेलमैदान में राजपुरोहित प्रीमियर लीग क्रिकेट प्रतियोगिता 2021 का 17 मार्च से शुभारंभ होगा। आयोजन समिति के गणपतसिंह राजपुरोहित ने बताया का प्रतियोगिता का महिला एवं पुरूष दो वर्गो में आयोजन होगा। जिसमें विजेता टीम को 31 हजार रूपये व उपविजेता टीम को 15 हजार रूपये एवं ट्राॅफी देकर सम्मानित किया जाएगा। प्रतियोगिता में इच्छुक टीमें निर्धारित एन्ट्री फीस 2100 रूपये जमा करवाकर भाग ले सकती है।

आॅनलाईन कार्यशाला में बालिका सशक्तिकरण की जानकारी दी
सायला।
पंचायल समिति सभागार में शनिवार को बालिका सशक्तिकरण के तहत आॅनलाइन कार्यशाला का आयोजन हुआ। जिसमें केआरपी खुश्बू गहलोत व मिनाक्षी जांगिड के नेतृत्व में सायला ब्लाॅक के 110 विद्यालयों के अध्यापकों को कार्यशाला से जोडा गया। इसमें मीना राजू एवं गार्गी मंच से संबंधित गतिविधियां, ड्राॅपआउट बच्चों को जोडना, आत्मरक्षा, करियर गाइडेंस, अध्यापिका मंच आदि के बारे में जानकारी दी। कार्यशाला में सभी संभागियों ने अपने विचार साझा किया। इस दौरान सभी संभागियों को कार्यशाला में प्राप्त प्रशिक्षण को अपने विद्यालयों में लागू कर विद्यालयों को लाभान्वित करने की बात कही। साथ ही अध्यापिका मंच का गठन किया गया। जिसमें सर्वसम्मति से रिंकु कुमारी को संयोजिका व तुलसी को सहसंयोजिका पद दिया गया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *