In this way, the number of corona continues to exceed 1 thousand
Health Jalore

इस तरह बढ़ता जा रहा कोरोना का आंकड़ा 1 हजार से पार जा पहुंचा

जालोर जिले में 40 और नए केस, १ हजार से पार हुआ संक्रमितों का आंकड़ा

जालोर. जालोर जिले में शुक्रवार को कोरोना पॉजिटिव का आंकड़ा 1 हजार के पार पहुंच चुकी है। विभाग को शुक्रवार को प्रक्रियाधीन सेंपल में से 441 की रिपोर्ट मिली। जिसमें से जिले में कुल 40 नए कोरोना पॉजिटिव मरीजों की पुष्टि हुई है। वहीं 392 जनों की रिपोर्ट नेगेटिव व 9 सेंपल रिजेक्ट हुए हैं।
सीएमएचओ डॉ. गजेन्द्रसिंह देवल ने बताया कि शुक्रवार को पॉजिटिव आए लोगों में से 1 सरदार पटेल मार्ग जालोर, 2 भीनमाल, 2 भूति, 3 बुड़तरा, 5 सांचौर, 2 देवड़ा, 1 धानसा, 1 धुम्बडिय़ा, 1 गोदन, 3 गुड़ा इन्द्रपुरा, 4 हाड़ेचा, 1 जोधावास, 1 कोडि़टा, 2 मांड़वला, 2 रामसीन, 2 सांफाड़ा, 4 सायला, 1 सियाणा व 2 उम्मेदाबाद निवासी हैं। इसी के साथ ही जिले में कोरोना संक्रमितों का आंकड़ा १०३० तक पहुंच गया है। जिले में अब तक कुल 52 हजार 42 सेंपल लिए गए हैं। जिनमें से 48 हजार 102 की रिपोर्ट नेगेटिव व 1202 प्रक्रियाधीन हैं। इसी तरह शुक्रवार को जिले में 531 चिकित्सा टीमों द्वारा 9 हजार 238 घरों का सर्वे कर 23 हजार 742 लोगों की स्क्रीनिंग की गई।

दिए महत्वपूर्ण निर्देश

कलक्टर हिमांशु गुप्ता ने वीसी के जरिए समस्त उपखंड अधिकारियों व ब्लॉक मुख्य चिकित्सा अधिकारियों से उपके क्षेत्र में फुटपाथ पर खड़े रहने वाले नाश्ता, थड़ी संचालकों व सब्जी विक्रेताओं समेत मिठाई विक्रेताओं की कोरोना जांच व सेंपलिंग के निर्देश दिए हैं। उन्होंने कहा कि इन श्रेणी के लोगों की सेंपलिंग बेहद जरूरी है। कारण कि इनके सम्पर्क में प्रतिदिन कई लोग आते हैं। यदि इनमें से कोई भी संक्रमित पाया जाता है तो जोखिम बढ़ जाएगी। कलक्टर ने कोविड केयर सेंटर की व्यवस्थाओं को अधिक सुचारू व संवेदनशील बनाने पर जोर देते हुए पटवारियों व ग्राम विकास अधिकारियों को स्पष्ट किया कि अगर उनके क्षेत्र में जागरण व भोज आयोजन या भीड़ इक_ा होने जैसी गतिविधियां होती हैं और इसकी सूचना यदि वे संबंधित मजिस्ट्रेट को देने में असफल रहते हैं और उनकी इस लापरवाही के कारण क्षेत्र में अधिक संख्या में संक्रमित पाए जाते हैं तो उन्हें निलम्बित किया जाएगा।

रानीवाड़ा में कोविड सेंटर पर विचार

कलक्टर ने वीसी में प्रत्येक उपखंड अधिकारी और बीसीएमओ से उनके क्षेत्र में कोविड-19 संक्रमण, रोकथाम एवं उपचार प्रबंधन के बारे में विस्तृत जानकारी ली और शिकायतों को दूर करने के निर्देश दिए। रानीवाड़ा में एक कोविड केयर सेंटर और खोलने पर भी विचार किया गया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *