Police arrived before death ban in Jalore and then ...
crime Jalore

जालोर में मृत्यु भोज से पहले पहुंची पुलिस और फिर…

– शनिवार को होना था मृत्यु भोज, जिसकी तैयारियों को दिया जा रहा था अंतिम रूप

जालोर. कोरोना के खतरे के बीच मृत्यु भोज के आयोजन और भीड़ एकत्र करने पर पूरी तरह से रोक है, लेकिन इस एडवाइजरी का उल्लंघन जिला मुख्यालय पर ही होने वाला था। जिसकी सूचना प्रशासन को मिली, जिस पर शुक्रवार शाम को ही पुलिस प्रशासन ने कार्रवाई करते हुए संबंधित व्यक्ति को पाबंद करते हुए आयोजन स्थल को सील किया।

यह आयोजन शनिवार सवेरे 9 बजे से 11 बजे गौरवपथ के निकट सोनी समाज न्याति नोहरे पर ऐसा आयोजन होने वाला था। जिसकी सूचना प्रशासन तक पहुंची तो एसडीएम चंपालाल जीनगर, सीआई बाघसिंह समेत अन्य अधिकारी मौके पर पहुंचे। यहां पर आयोजन के लिए टेंट समेत अन्य व्यवस्थाएं की गई थी। जिस पर उन्होंने वहां मौजूद लोगों से इस संबंध में जानकारी जुटाई। साथ ही आयोजन स्थल पर लॉक लगवाने के साथ चाबी ले ली।

एसडीएम के निर्देश पर यह चाबी शहर कोतवाली को सुपुर्द की गई। एसडीएम ने वहां मौजूद लोगों को एडवाइजरी की पालना करने की नसीहत दी। साथ ही उल्लंघन करने पर कार्रवाई की बात कही। उन्होंने मृत्यु भोज के रूप में धन के दुरुपयोग से बेहतर जरुरतमंदों की सेवा करने की बात कही। इस दौरान उन्होंने घर में भी एडवाइजरी की पालना की बात कही।

आज होना था मृत्यु भोज

सोनी समाज न्याति नोहरे में शनिवार को मृत्यु भोज का आयोजन था। जिसकी तैयारियां शुक्रवार को की जा रही थी। इस संबंध में सूचना मिलने के साथ यह कार्रवाई की गई।

इनका कहना

मृत्यु भोज से संबंधित सूचना पर मौका स्थल का निरीक्षण किया गया। मौके पर मृत्यु भोज को लेकर तैयारियां की जा रही थी। जिस पर आयोजन स्थल पर ताला लगाया गया है। साथ ही संबंधित को पाबंद किया गया है।
– बाघसिंह, सीआई, जालोर

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *