This unique initiative will bring special recognition to Jalore in Sanchore
Jalore

सांचौर में यह अनूठी पहल जालोर को दिलाएगी खास पहचान

– मंत्री सुखराम समेत विभागीय अधिकारियों ने किया निरीक्षण

जालोर. सांचौर की नर्मदा कॉलोनी के पास स्मृति वन का निर्माण कार्य चल रहा है। इस कार्य का पर्यावरण एवं वन मंत्री सुखराम ने निरीक्षण कर निर्देश दिए। डीएफओ मंगलसिंह राठौड़ ने बताया कि नर्मदा नहर विभाग से वन विभाग को 5.93 हैक्टेयर जमीन का हस्तांतरण किया गया है।

जिसमे वन विभाग द्वारा सांचोर व आस पास के लोगों के लिए पारिस्थितिक पर्यटन रूप से विकसित किया जा रहा है। जहां पर सुबह व शाम को लोग व्यायाम, योग एवं भ्रमण कर सकेंगे। स्मृति वन में अब तक चार दीवारी का काम पूरा हो चुका है तथा पौधरोपण का कार्य प्रगति पर है। स्मृति वन में रोपित किए जा रहे 200 पौधों की औसत ऊंचाई 15 से 20 फीट है।

जिसमें नीम, गुलमोहर, चंदन, फायर ब्रश आदि शामिल है। इसके अलावा फलदार व फूलदार श्रेणी के पौधे आंवला, खेजड़ी, गूंदा, रोहिड़ा, आम आदि भी लगवाए जाएंगे। विभाग की ओर से 11 लाख का बजट अब तक स्वीकृत हो चुका है। वहीं अतिरिक्त बजट की मांग कैंपा योजना के तहत की गई है। सहायक वन संरक्षक डॉ. अमित चौहान ने बताया कि स्मृति वन विकसित होने से स्थानीय लोगों का पर्यावरण संरक्षण के प्रति जुड़ाव होगा।

साथ ही यह क्षेत्र लोगों के लिए घूमने, योगा, स्वास्थ्य लाभ, बच्चों के पर्यावरण शिक्षण में सहायक होगा। इस दौरान क्षेत्र वन अधिकारी श्रीराम विश्नोई, वन पाल किशोरसिंह, वन रक्षक ओमप्रकाश विश्नोई, भगवती विश्नोई, हनुमानाराम, जवाराराम, कांगे्रस नेता हिंदू सिंह दूठवा, हरीश पुरोहित, सत्येंद्र साहू, हुकमाराम मौजूद रहे।

ये कार्य होंगे

स्मृति वन में तालाब की खुदाई एवं पिचिंग का कार्य भी प्रस्तावित है। जो जल्द ही शुरू किया जाएगा। शनिवार को मंत्री सुखराम ने पौधरोपण एवं अन्य कार्यों की गति को बढ़ाने के लिए विशेष निर्देश दिए। इस दौरान उन्होंने उपस्थित दानदाताओं से स्मृति वन का मुख्य द्वार लगवाने एवं तालाब में भ्रमण पथ के लिए सहयोग की अपील की।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *