crime

#Jalore चितलवाना के ग्राम पंचायत गोमी में मनरेगा श्रमिकों के फर्जी नाम चलाकर लाखों रूपयों का किया गबन

– ग्रामीणों ने ग्राम विकास अधिकारी एवं मेटो पर मिलीभगत का लगाया आरोप
– जिला कलक्टर को शिकायत कर जांच दोषियों के खिलाफ कार्यवाही की मांग की
जालोर।

पंचायत समिति चितलवाना के ग्राम पंचायत गोमी के ग्राम हिन्डवाडा में भेडा नाडी खुदाई कार्य में ग्राम विकास अधिकारी ने मेटो की मिलीभगत से फर्जी मस्टरोल चलाकर लाखों रूपयों का भुगतान उठाने की शिकायत ग्रामीणों द्वारा जिला कलेक्टर को की गई है। शिकायत मे हिंडवाडा गांव के ग्रामीणों ने बताया कि गांव में 26.5.2020 से 09.06.2020 तक मस्टरोल संख्या 9478, 9488 एवं 9454 व 9455 चलाकर लगभग 274000 रुपए का गबन ग्राम विकास अधिकारी एवं मेटों ने मिलकर किया है। जबकि भेडा नाड़ी पर 24 लाख का बजट स्वीकृत हुआ है। जिसे कागजों में चलाकर सरकारी बजट का गबन करना चाहते हैं। ग्रामीणों द्वारा पूर्व में 02.06.20 को बीडीओ को शिकायत की गई लेकिन कार्यवाही नगण्य रही। यहां तक ही नहीं वर्तमान में गोमी पंचायत में भेड़ा नाड़ी खुदाई कार्य पर 157 श्रमिक, ग्रेवल सड़क रतनपुरा से गोमी 123 श्रमिक, तालाब खुदाई कार्य रतनपुरा 55 श्रमिक, ग्रेवल सड़क चितलवाना आमली डामर सड़क से इशरोल वितरिका 121 श्रमिक इस प्रकार कुल 456 श्रमिकों के नाम फर्जी तरीके से चलाकर सरकारी पैसे का कोरोना जैसी महामारी में चुना लगाया जा रहा है। इस पूरे कार्यों की जांच की मांग ग्रामीणों द्वारा जिला कलेक्टर को पत्र लिखकर की गई। इस दौरान मूंगाराम पुरोहित, बाबूलाल, मफाराम, मोहनलाल, मानाराम विश्नोई, हरचंद रेबारी, हरखाराम पुरोहित, जोगाराम, नरेश कुमार, कृष्णलाल आदि मौजूद थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *