Corona recovery rate giving good signs before Diwali
crime Jalore

दीपावली से पहले कोरोना रिकवरी रेट दे रही अच्छे संकेत

– कोरोना का डर अब हुआ कम

ेंजालोर. कोरोना का असर कम हुआ तो अब लोगों को राहत जरुर मिली है। सितंबर महीने के अंत तक जिले में महज 12 एक्टिव केस रह गए थे। वहीं अक्टूबर महीने के 22 दिन में ही यह आंकड़ा बढ़कर 602 तक पहुंच गया है। खास बात तो यह है कि अब तक अक्टूबर महीने में सामने आए कोरोना मरीजों में से सर्वाधिक जालोर शहरी व ग्रामीण क्षेत्र के हैं।

ajanta
ajanta

सितंबर महीने में कोरोना के कुल 1238 मरीज सामने आए थे। जबकि अक्टूबर महीने में गुरुवार तक 938 मरीज सामने आ चुक हैं। इनमें से फिलहाल जालोर शहर व ग्रामीण क्षेत्र में सर्वाधिक 134 एक्टिव केस हैं। जिनका उपचार चल रहा है। इसी तरह मई महीने से लेकर अब तक कोरोना से कुल 39 जनों की मौतें हो चुकी है। सर्वाधिक 22 मौतें अकेले सितंबर महीने में हुई है। वहीं मई महीने में 2, जुलाई में 4, अगस्त में 6 और अक्टूबर में 5 जनों की मौत कोरोना से हुई।

चिकित्सा एवं स्वास्थ्य विभाग को गुरुवार को प्रक्रियाधीन सेंपलों में से 467 की रिपोर्ट प्राप्त हुई। जिसमें जिले में 45 नए कोरोना संक्रमित मिले हैं। सीएमएचओ डॉ. जीएस देवल ने बताया कि रिपोर्ट में 3 जालोर शहर, 2 पंसेरी, 1 पूरण, 4 खानपुर, 1 बादनवाड़ी, 11 डावल, 1 कोरी धवेचा, 2 सांथू, 4 रामसीन, 1 रटूजा, 1 सांकरणा, 7 थूर, 2 सुंधा माता, 1 सिराणा, 1 भीनमाल, 1 उम्मेदाबाद, 1 वारणपुरी व 1 वासन निवासी व्यक्ति कोरोना संक्रमित पाए गए हैं। उन्होंने बताया कि जिले में अब तक कुल 1 लाख 15 हजार 499 सेंपल लिए गए हैं। जिनमें से 1 लाख 9 हजार 84 की रिपोर्ट नेगेटिव प्राप्त हुई है। जिले में अब तक कुल 3534 व्यक्ति कोरोना पॉजिटिव मिले हैं। इसी तरह गुरुवार को जिले में 536 चिकित्सा टीमों ने 9 हजार 935 घरों का सर्वे कर 23 हजार 779 लोगों की स्क्रीनिंग की।

कोरोना से अब जिले में 39 जनों की मौत हो चुकी है। वहीं इनमें से सर्वाधिक जालोर शहर में 16 व ग्रामीण में 3 यानी जालोर क्षेत्र में कुल 19 मौतें हुई है। वहीं सायला में 2, जसवंतपुरा में 2, सांचौर शहर में 5, भीनमाल शहर में 6, सांचौर ग्रामीण में 2, रानीवाड़ा में 1 व चितलवाना क्षेत्र में 1 जने की कोरोना से मौत हुई है। वहीं आंकड़ों के अनुसार अब तक जिले के ग्रामीण क्षेत्रों में 12 व शहरी क्षेत्रों में 27 जनों की मौत हुई है।

आंकड़ों के मुताबिक अक्टूबर महीने में सबसे ज्यादा 93.41 प्रतिशत रिकवरी रेट सायला क्षेत्र की रही है। इसी तरह सबसे कम चितलवाना की 45.22, जालोर शहर की 86, आहोर में 83.38, जसवंतपुरा में 78.44, सांचौर शहर में 85.56, भीनमाल शहर में 87.40, जालोर ग्रामीण में 87.79, सांचौर ग्रामीण में 79.14, रानीवाड़ा में 64.61 व भीनमाल ग्रामीण में 80.21 प्रतिशत रिकवरी रेट रही है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *