crime

बिदारा में सुअर को बघेरे ने बनाया शिकार

 

2017 से अब तक आधा दर्जन मवेशियों को बना चुका शिकार

संतोष कुमार वर्मा

शाहपुरा | बिदारा ग्राम में शनिवार रात एक सुअर पर हमला कर,खाने के लिए वार्ड नं दो में एक नीम के पेड़ पर चढ रहा था लेकिन पेड़ में अटकने पर वही छोड़कर भाग गया । प्रातःकाल सामाजिक कार्यकर्ता पूरणमल बुनकर व अन्य यूवाओं ने पेड़ पर मृत सूअर को देखा। पिछले कई सालों से ग्राम में बघेरे की आवाजाही होने के बावजूद वन विभाग द्वारा कोई ठोस कदम नहीं उठाने से नाराज ग्रामीणों ने विरोध जताया। ग्रामीणों ने पीडित परिवार को मुआवजा देने की मांग की। ग्रामीण प्रभुदयाल बुनकर,पवन जोशी,संजय मीणा,मुकेश कुमार बुनकर,फूलचंद, बनवारी,राजकुमार,रोहिताश आदि ने बताया कि।मामले की सूचना मिलते ही सुबह वनपाल नन्दलाल शर्मा व वनरक्षक मोनिका चौधरी पहुंच कर मृत सुअर का पंचनामा किया । उन्होंने लोगों को वन्य जीव से अपने पशुधन को बचाने के लिए सावधानी बरतने की बात कही।

पिंजरे के पास टपकता तक नहीं

समाजसेवी पूरणमल बुनकर ने बताया कि वन विभाग ने बघेरे को पकड़ने के लिए जोहड़ी की तरफ कई महीनों से पिंजरा लगाया था, लेकिन बघेरे ने अपना मूवमेंट ही बदल लिया। पिंजरे की तरफ जाता तक नहीं है। ग्रामीणों ने आक्रोश जताते हुए कहा कि कई साल से वन्य जीव का खतरा बना हुआ है, लेकिन वन विभाग ने केवल यहां पर पिंजरा लगाकर इतिश्री कर ली है, बघेरे को पकड़ने का अभी तक कोई विशेष प्रयास नहीं किया गया । इससे बघेरा आए दिन गरीब लोगों के मवेशियों को शिकार बना रहा है। लोगों ने वन विभाग के अधिकारियों को बघेरे को पकड़कर राहत प्रदान करने की मांग की है।