Jalore RAJASTHAN

किसान उत्साहित व्यापारी खुश, लेकिन नेता कर रहे अनार की प्राइवेट मंडियों पर राजनीति

सायला।
क्षेत्र के जीवाणा स्थित परफेक्ट फ्रुट मंडी में किसानों को अनार की अच्छी कीमत मिल रही है। जिससे किसान उत्साहित है तो व्यापारी भी खुश है। लेकिन स्थानीय नेता अनार मंडियों पर राजनीति की रोटियां सेकना चाहते है। इसके लिए यह नेता मंडी संचालक एवं व्यापारियों को डरा धमकाने से भी बाज नही आ रहे है।
जानकारी के अनुसार जिले के सायला क्षेत्र में इस बार अनार की बंपर पैदावार हुई है। लेकिन शुरूआती सीजन में मंदी के कारण अनार की पैदावार की कम कीमत मिलने पर किसान निराश थे। जबकि इस मंदी के दौरान भी परफेक्ट फ्रुट मंडी जीवाणा में किसानों को अनार की पैदावार की अच्छी कीमत मिलने से किसानों का फायदा हो रहा था। ऐसे में बडी संख्या में किसान भी अन्य मंडियों की बजाय परफेक्ट फ्रुट मंडी में अनार की पैदावार बेचने के लिए जुट रहे थे। जिससे खफा अन्य मंडी व्यापारियों एवं स्थानीय राजनेताओं द्वारा परफेक्ट फ्रुट मंडी के संचालक व व्यापारियों को परेशान करने के लिए नित नए नए जतन किए जा रहे है। परफेक्ट फ्रुट मंडी के संचालक बापु सेठ पिंगले ने बताया कि उनकी मंडी में जीवाणा, बावतरा, सायला, सांगाणा, दहिवा, दुदवा, तालियाणा, मेंगलवा, आलवाडा, खेतलावास, सुराणा, तिलोडा, दादाल, उन्नडी, पोषाणा, सियावट, बागोडा समेत बाडमेर जिले से किसान अनार की पैदावार बेचने आते है। जिन्हें व्यापारियों द्वारा पैदावार की अच्छी कीमत दी जा रही है। जिससे किसानों में खुशी की लहर है। लेकिन किसानों की यह खुशी कुछ नेताओं एवं दूसरे मंडी व्यापारियों को रास नही आ रही है। जो किसानों की हितैषी व क्षेत्र की सबसे बड़ी प्राइवेट फ्रूट मंडी से परफेक्ट फ्रूट मंडी जीवाणा से प्रतिस्पर्धा करने की बजाय मंडी के कार्मिकों को परेशान करने का कार्य कर रहे है।

मंडी की वजह से मिल रही वाजिब कीमत –

क्षेत्र के जीवाणा मे परफेक्ट फ्रुट मंडी होने से किसानो को अनार की वाजिब किमत मिल रही है। ऐसे मे इस वर्ष किसानो के लिए परफेक्ट मंडी ही एकमात्र सहारा बनी है और किसानो को व्यापारियों द्वारा पैदावार के उचित दाम दिए जा रहे है। इस वर्ष यदि मंडी नही होती तो किसानो को भारी नुकसान हो सकता था। वही इस बार अधिकतर बगीचों मे रोग आने से कई बगीचों मे फल लगे ही नही और कई मे लाखो रूपये की दवाई देने के बाद भी मनचाही पैदावार नही हुई। साथ ही इस बार फल जल्दी पककर तैयार हो जाने से आगे अनार की खपत नही होने के कारण मनचाहे दाम तो नही मिले लेकिन मंडी की वजह से नुकसान भी नही हुआ क्योंकि इस बार महाराष्ट्र, गुजरात, जयपुर सहित शहरो से व्यापारी पिछले वर्ष की तरह बगीचो मे जाकर भी फसल लेने वाले कोई नही थे।

मंडी पर राजनीति किसानो के लिए घातक

जीवाणा मे महाराष्ट्र के व्यापारी बापू सेठ पिंगले द्वारा लगाई गई परफेक्ट फु्रट मंडी मे किसानो को वाजिब दाम मिलने व किसानो द्वारा अपने वाहनो को इसी मंडी ज्यादा ले जाने से स्थानीय व्यापारीयो के पास माल कम आने के कारण मंडी को बदनाम रकने के लिए स्थानीय व्यापारीयो द्वारा परफेक्ट मंडी को बदनाम करने के लिए कई जतन किए जा रहे है ताकि बापू सेठ यहां से चले जाए तो किसान मजबुर होकर उनकी मनचाही रेट मे भी अनार उनकी मंडी मे बेच कर जाए।

बदमाशो को भेजकर दी जा रही धमकीयां

परफेक्ट मंडी से नाखुश अन्य मंडी मालिको द्वारा रात्रि मे तस्करो व बदमाश लोगो को भेजकर किसानो व व्यापारीयो को धमकाया जा रहा है ऐसे मे पिछले दिनो रात्रि मे एक व्यक्ति द्वारा ब्लैक गाडी लेकर मंडी के गार्ड को धमकाया गया। वही किसानो को भी धमकाया गया है ऐसा इसलिए किया जा रहा है कि डर के मारे किसान परफेक्ट मंडी मे नही जाकर पास की मंडी मे आने शुरू हो जाए।

स्थानीय नेताओ पर भी आरोप
वैसे तो हर नेता चुनावी दौर मे अपना वोट के लिए किसानो को कई प्रकार के लालच देकर किसानो से वोट लेने के लिए आ जाते है लेकिन इस वर्ष अकाल व किसानो के बगीचो मे इतनी बीमारी होने व पिछले वर्ष की तुलना मे इस वर्ष भाव भी कम होने पर किसी नेता ने किसानो के हाल जानना तो दुर लेकिन उलट व्यापारीयो को भी डरा धमका कर भगाने के साजिशे की जा रही है। ऐसे मे आने वाले समय के लिए किसानो को जागरूक होने की जरूरत है ।

shrawan singh
Contact No: 9950980481

2 Replies to “किसान उत्साहित व्यापारी खुश, लेकिन नेता कर रहे अनार की प्राइवेट मंडियों पर राजनीति

  1. Pingback: Apple gift card

Comments are closed.