Young men caught in this way of fake brides
crime Jalore

फर्जी दुल्हनों के जाल में इस तरह फंसे युवा और फिर चला पुलिस का डंडा

फर्जी दुल्हन से शादी करवाकर रुपए हड़पने के मामले में फरार आरोपी गिरफ्तार

सायला. पुलिस ने फर्जी शादी करवाकर रुपए हड़पने के मामले में फरार चल रहे एक आरोपी को गुरुवार को गिरफ्तार किया है। सायला थानाप्रभारी सवाईसिंह की ओर से गठित टीम में शामिल हेड कांस्टेबल सुनील कुमार मय जाब्ता ने आरोपी को गिरफ्तार किया।

पुलिस के अनुसार विराणा निवासी प्रार्थी भीमसिंह राजपुरोहित ने पुरोहित जाति की लड़की बताकर 15 लाख रुपए लेकर जोगी कालबेलिया जाति की लड़की से शादी करवाकर धोखाधड़ी करने व अमानत में खयानत को लेकर परिवाद पेश किया था। प्रकरण में फरार दसवें आरोपी देचू जोधपुर ग्रामीण थानांतर्गत बुकडिय़ा निवासी नारायणसिंह पुत्र खींवसिंह राजपुरोहित को गुरुवार को गिरफ्तार किया गया। पुलिस ने बताया कि प्रकरण में अब तक मुख्य आरोपी सहित सहयोगियों व फर्जी दुल्हन को गिरफ्तार कर धोखाधड़ी पूर्वक हड़प की गई राशि बरामद की जा चुकी है। कार्रवाई के दौरान पुलिस टीम में कांस्टेबल भजनलाल, वीरमसिंह, मोहनलाल व किशनलाल जालोर साथ थे।9 आरोपी पकड़े जा चुके हैं पहलेमामले में पूर्व में 9 आरोपित पकड़े जा चुके हैं। इनमें राइकों की ढाणी पाली निवासी धापू कंवर उर्फ धापूबाई पत्नी स्व. दौलतसिंह राजपुरोहितए, रायपुर के वाडिय़ा निवासी लक्ष्मी उर्फ प्रिया पुत्री रूपा उर्फ रूपलाल कालबेलिया, देरिया मण्डली निवासी मांगूसिंह पुत्र रामसिंह राजगुरु राजपुरोहित, पटाउकल्ला पचपदरा निवासी शिवसिंह पुत्र हड़मानसिंह उर्फ हड़मतसिंह राजपुरोहित, सुमेश्वर शेरगढ़ निवासी जसवंतसिंह उर्फ जसराज पुत्र खीवसिंह सेवड़ राजपुरोहित, सुमेश्वर हाल कलाऊ निवासी धन्नसिंह पुत्र भंवरसिंह सेवड़ राजपुरोहित, वायद निवासी गीताकंवर पत्नी स्व. मोहनसिंह राजपुरोहित, लालपुरा राशमी निवासी चेनिया उर्फ राजू उर्फ राजेश पुत्र घीसालाल नायक व धनला मारवाड़ जंक्शन निवासी पूजा कंवर पत्नी भरतसिंह पुरोहित शामिल हैं।

यहां हनी ट्रेप का मामला, जानिये क्या है प्रकरण

भीनमाल. Social Media पर चैट कर दो युवकों को उदयपुर बुलाने, नशीला पदार्थ पिलाकर अश्लील फोटो व वीडियो बनाने और बाद में फोटो-वीडियो वायरल करने की धमकी देकर 8 लाख रुपए मांगने के मामले में पुलिस ने आरोपी एक युवती व एक युवक को गिरफ्तार कर गुरुवार को न्यायालय में पेश किया। जहां से उन्हें जेल भेजा।

पुलिस ने बताया कि शहर निवासी अमृतकुमार व भरतकुमार ने 21 जुलाई को थाने में रिपोर्ट दर्ज करवाई कि सोशल मीडिया इंस्टाग्राम पर एक युवती से चैटिंग हुई थी। जिसके बाद उन्हें उदयपुर बुलाकर एक महिला व युवकों ने नशीला पदार्थ पिलाकर उनके अश्लील फोटो व वीडियो बनाए। बाद में फोटो व वीडियो वायरल करने की धमकी देकर 8 लाख रुपए मांगे। पुलिस ने मामला दर्ज कर एएसआई बद्रीदान चारण के नेतृत्व में टीम गठित कर आरोपी शहर के कृषि मंडी के सामने धर्मकांटा की गली निवासी दिनेश पुत्र घेवाराम राणा को शहर से व आहोर हाल उदयपुर निवासी करिश्मा वैष्णव गिरफ्तार किया। जबकि दो अन्य आरोपी गिरफ्तार होने शेष हैं। कार्रवाई में हेड कांस्टेबल खसाराम, महिला कांस्टेबल श्रवणी व ब्रह्मा शामिल थीं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *