Accused of theft here in Bhinmal sent to jail
crime Jalore

राजपुरा में किशोरियों से गैंगरेप में यह चौंकाने वाली जानकारी आई सामने

राजपुरा गैंगरेप की घटना

जालोर. जसवंतपुरा थाना क्षेत्र के अंतर्गत राजपुरा में अचेत अवस्था में मिली दो किशोरियों से गैंगरेप की बात सामने आई है। जिसके बाद पुलिस ने देर रात को एक आरोपी चेतनराम पुत्र वीराराम भील को गिरफ्तार किया, जबकि अन्य आरोपियों की तलाश है।

मामले के अनुसार खाण्डादेवल गांव से शनिवार रात कुछ युवकों ने दो नाबालिग लड़कियों का अपहरण कर उनके साथ गैंगरेप किया। युवकों की संख्या 5 बताई जा रही है। गैंगरेप के बाद आरोपी लड़कियों को जसवंतपुरा थाना क्षेत्र के राजपुरा में पहाडिय़ों पर अचेत अवस्था में छोड़कर आरोपी फरार हो गए। सूचना पर पुलिस निरीक्षक अवधेश सांदू व सहायक उप निरीक्षक चंद्रप्रकाश मय जाब्ता मौके पर पहुंचे। पुलिस ने लड़कियों को अचेत व घायल अवस्था में शहर के एक निजी अस्पताल में भर्ती करवाया।

जहां उनका इलाज चल रहा है। सांचौर एएसपी दशरथसिंह के निर्देशन में जसवंतपुरा, रामसीन, बागोड़ा व भीनमाल थानाप्रभारी के नेतृत्व में चार टीमें गठित कर आरोपितों की तलाश शुरू की गई। डीएसपी शंकरलाल ने बताया कि पीडि़ता के पिता ने रिपोर्ट दर्ज करवाई कि खाण्डादेवल निवासी चेतनराम पुत्र विरकाराम, अशोक पुत्र लसाराम, तेजाराम पुत्र लसाराम, पीराराम पुत्र करताराम भील व दो अन्य ने शनिवार देर रात उसके घर में प्रवेश कर उसकी नाबालिग बेटी व उसकी नाबालिग चचेरी बहन का अपहरण कर लिया।

अपहरण करने के बाद दोनों को जसवंतपुरा के राजपुरा गांव ले गए। जहां पहाडिय़ों पर आरोपियों ने दोनों के साथ गैंगरेप किया। गैंगरेप के बाद आरोपित मौके से फरार हो गए। पुलिस ने पीडि़ता के पिता की रिपोर्ट पर मामला दर्ज कर जांच शुरू की। एक पीडि़ता को होश आने पर उसने पुलिस को बयान देकर गैंगरेप की पूरी घटना बताई। पुलिस आरोपितों की तलाश में जुटी हुई है।

पहाडिय़ों पर अचेत अवस्था में मिली नाबालिगपरिजनों के घर से अपहरण करने की सूचना पर पुलिस तलाश करते हुए राजपुरा पहुंची। पुलिस को दोनों नाबालिग लड़कियां राजपुरा बांध के पास स्थित पहाडिय़ों में अचेत व घायल अवस्था में मिली। एक लड़की के सिर से खून बह रहा था। जिससे प्रतीत होता है कि नाबालिग लड़कियों के साथ आरोपितों ने मारपीट कर उन्हें घायल कर दिया। सिर पर चोट व घबराहट की वजह से नाबालिग अचेत हो गई।

क्या हो रहा जालोर में

जालोर जिले की बात करें तो इस तरह की वारदातें देखने को नहीं मिल रही थी। लेकिन पिछले 15 दिन की ही बात करें तो यह दूसरी ऐसी घटना है, जिसमें किशोरियां निशाना बनी है। इससे पहले सायला थाना क्षेत्र के खरल के पास इसी तरह अचेत अवस्था में किशोरी मिली थी और बाद में उसकी मौत हो गई थी। इसमेें पूर्व उप सरपंच गिरफ्तार हुआ था।

आरोपियों को अंजाम तक पहुंचाने की जरुरत

यह झकझोर देने वाला घटनाक्रम कहीं न कहीं ढीली पुलिसिंग का नतीजा है। एक तरफ जसवंतपुरा थाना प्रभारी को मामले की भनक तक नहीं लगी, जबकि उनके हलके में यह मामला हुआ। दूसरी तरफ एक आरोपी की गिरफ्तारी जरुर हुई है, लेकिन अन्य आरोपी अभी गिरफ्त से दूर है। सीधे तौर पर आरोपियों की गिरफ्तारी के साथ इनके खिलाफ कड़ा रुख अख्तियार करने की जरुरत है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *