Accused of fraud and cheating on the run for a long time arrested
crime Jalore

नकली नोट बरामदगी के मामले में पुलिस के सामने यह है सबसे बड़ा प्रश्न…जानिये

जांच में पुलिस कई संदिग्धों से कर रही पूछताछ

जालोर. नकली नोट प्रकरण में पुलिस को बड़े गिरोह के जुड़े होने की आशंका है और पुलिस इसी आधार पर जांच को आगे बढ़ा रही हे। इस प्रकरण में पुलिस ने 40 हजार रुपए से अधिक के नकली नोट बरामद किए हैं, इसके अलावा दो हजार और 500 के आधे अधूरे तैयार नोट भी बरामद किए हैं। सीधे तौर पर ये नकली नोट बनाने के कारोबार के ही संकेत हैं, जो चौंकाने वाले हैं। पुलिस ने यहां से शंभूनाथ के शिष्य को गिरफ्त में लिया है।

पुलिस भी मान रही है कि इस अवैध कारोबार में बड़ा गिरोह सक्रिय हैं, जिसको लेकर पुलिस जांच कर रही है। इस पूरे घटनाक्रम में नकली नोटों के बाजार में चलन की भी पूरी संभावना है। इस बात से इनकार नहीं किया जा सकता कि नकली नोट बाजार में पहुंचे हो और वर्तमान में भी कहीं इसका स्टॉक हो।

पहले भी ऐसा हो चुका

जालोर में नकली नोट बरामदगी का यह पहला मौका नहीं है। 2018 में इसी तरह का प्रकरण सामने आ चुका है। इसलिए सीधे तौर पर नकली नोट गिरोह के फिर से सक्रिय होने की संभावना से इनकार नहीं किया जा सकता। माना जा रहा है कि इस कार्य में कुछ स्थानीय लोगों की भूमिका भी हो सकती है। जिसको लेकर पुलिस पूछताछ में जुटी हुई है।

नजरें शंभूनाथ की पूछताछ पर

इस प्रकरण में मुख्य आरोपी शंभूनाथ है। अब इस प्रकरण में पुलिस ने सांचौर जेल में बंद शंभूनाथ से पूछताछ की जाएगी। सीधे तौर पर इस प्रकरण से जुड़े महत्वपूर्ण तथ्य और जानकारियां सामने आएंगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *