Officials did not stop tubewell carving even after information
crime

#Raniwara अधिकारियों ने सूचना के बाद भी इसलिए नहीं रुकवाया ट्यूबवैल खुदवाई का कार्य

– डार्कजोन होने के बाद भी विभाग ने नहीं रुकवाया ट्यूबवैल खुदाई का काम
जालोर. रानीवाड़ा क्षेत्र में सरकारी आदेशों पर अधिकारियों की मनमानी इस कदर हावी दिखी कि डार्क जोन पर रोक के बावजूद देर रात तक ट्यूबवैल खुदाई का काम चल रहा न तो इस कार्य पर रोक लगाई गई न ही यहां से मशीनें जब्त की गई। मामला धामसीन क्षेत्र का है। नतीजा यह हुआ कि सवेरे तक मौके पर ट्यूबवैल की खुदाई हो चुकी थी। गिरते भूजल स्तर के कारण जालोर जिला डार्कजोन में शामिल है और यहां ट्यूबवैल की खुदाई पर पूरी तरह से प्रतिबंध है। इस रोक के बाद भी धामसीन में नियम कायदे ताक पर रखकर रात के अंधेरे में मशीनों से ट्यूबवैल की खुदाई का काम शुरू किया गया। जिस पर स्थानीय लोगों ने इस संबंध में तहसीलदार को शिकायत की। तहसीलदार ने शिकायत पर कार्रवाई के बजाय ढिलाई बरती।
बोरिंग मशीन तक जब्त नहीं
रात में ही तहसीलदार को फोन पर नियम विरुद्ध ट्यूबवैल खुदाई की जानकारी दी गई थी, लेकिन उसके बाद भी विभाग की ओर से कार्रवाई नहीं की गई। मामले में खास बात यह है कि सर्वे मामले में अधिकारियों की नींद जागी और मौका रिपोर्ट के लिए पटवारी और आरआई को भेजा गया। जिसके द्वारा सोमवार शाम तक रिपोर्ट तैयार नहीं की जा सकी। जबकि इन मामलों में पहले स्तर पर मौका कार्रवाई करते हुए बोरिंग मशीन को जब्त करते हुए संबंधित व्यक्ति को पाबंद करने का प्रावधान है।
इनके बेतुके जवाब
मामले की जानकारी मिल है। इस संबंध में आवश्यक कार्रवाई के लिए तहसीलदार को अवगत करवाया गया है।
– प्रकाशचंद्र अग्रवाल, उपखंड अधिकारी, जालोर
सूचना पर सवेरे आरआई और पटवारी को मौका रिपोर्ट के लिए भेजा गया था। रिपोर्ट मिलने पर उनके अनुसार अग्रिम कार्रवाई अमल में लाई जाएगी।
्र- शंकरलाल मीणा, तहसीलदार, रानीवाड़ा

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *