JAIPUR MEDICAL
National

#JAIPUR कोरोना से लड़ रहे डॉक्टर्स ने यहां जीती अनूठी लड़ाई

– कोरोना महामारी के दौर में गैर कोविड बीमारियों में भी राजस्थान के चिकित्सकों की बड़ी चिकित्सकीय उपलब्धि हासिल की
जयपुर. कोरोना महामारी के इस दौर में राजस्थान के चिकित्सक कोरोना के इलाज के साथ ही अन्य चिकित्सकीय समस्याओं का समाधान भी कर रहे हैं। ऐसा ही एक वाकया सवाई मानसिंह अस्पताल में घटित हुआ। सवाई मानसिंह चिकित्सालय के चिकित्सकों ने एक महिला का कटा हुआ पंजा जोडऩे में सफलता प्राप्त की। कोरोना महामारी के संकट के समय चिकित्सकों की यह उपलब्धि वाकई उल्लेखनीय है। सवाई मानसिंह चिकित्सालय के चिकित्सकों ने 5 घंटे अथक प्रयास किया। चिकित्सकों के प्रयास रंग लाए और मालपुरा से आई महिला का कटा हुआ पंजा सफलतापूर्वक जुड़ गया। चिकित्सकों की कड़ी मेहनत से अब महिला के चेहरे पर मुस्कान लौट आई है। एसएमएस हॉस्पिटल के चिकित्सकों ने अपनी तत्परता और विशेषज्ञता से महिला का कटा हुआ पंजा जोड़कर उसे अपंग होने से बचाया है। महिला के घरवाले सवाई मानसिंह चिकित्सालय के चिकित्सकों की तारीफ करते नहीं थक रहे हैं। उनका कहना है कि चिकित्सक भगवान के रूप होते हैं और आज ये देख भी लिया है। अस्पताल के प्लास्टिक सर्जरी विभाग के सीनियर प्रोफेसर डॉ. प्रदीप गोयल की टीम ने इस कारनामे को अंजाम दिया। ऑपरेशन करने वाली टीम में डॉ. प्रतीक गुप्ता, डॉ. अभिषेक शर्मा, डॉ. कुशल मोंगा, डॉ. विकेश विज, डॉ. शिखा बंसल और डॉ. प्रभु शामिल थे, वहीं एनीस्थिसिया विभाग के डॉ. मृदुला, डॉ. विश्वेन्द्र और डॉ. चेताली साथ थीं। चिकित्सा एवं स्वास्थ्य मंत्री डॉ. रघु शर्मा ने इस उपलब्धि के लिए एसएमएस मेडिकल कॉलेज प्रिंसिपल डॉ. सुधीर भंडारी, अधीक्षक डॉ. राजेश शर्मा तथा प्लास्टिक सर्जरी एवं एनेस्थीसिया विभाग सहित पूरे एसएमएस हॉस्पिटल परिवार को बधाई एवं शुभकामनाएं दी है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *