Lightning pole fell on a moving bus, accident averted
crime Jalore

चलती बस पर गिरा बिजली पोल, हादसा टला

तार टूटते ही कट गई बिजली, नहीं तो हो सकता था बड़ा हादसा

सांचौर. झाब क्षेत्र में मंगलवार को एक बड़ा हादसा टल गया। जानकारी के अनुसार सवेरे सात बजे मुंबई से बागोड़ा तक जाने वाली निजी बस कस्बे से हो कर गुजर रही थी। इस दौरान कम ऊंचाई पर झूल रहे बिजली के तार बस के सम्पर्क में आने से टूट गए और खिंचाव के चलते बिजली का पोल चलती बस पर गिर गया। इस दौरान बस का कांच फोड़कर बिजली पोल पर लगी एंगल बस के अंदर घुस गई। गनीमत रही कि तार टूटने से बिजली अचानक कट गई, वरना बड़ा हादसा हो सकता था।

जानकारी के अनुसार बस में चौदह यात्री सवार थे और जिस सीट पर पोल गिरा उस पर बैठे यात्री बीस मीटर पहले ही स्टॉप पर उतर गए थे। जिससे बड़ा हादसा होते होते टल गया। रात को टैंकर से हिले थे तारप्रत्यक्षदर्शियों के अनुसार रात में इसी मार्ग से गुजर रहे एक टैंकर में तार अटक जाने से पोल हिल गया था। अगले दिन सेवेरे बस हादसे की शिकार हुई।

ग्रामीण पिंटूसिंह चौहान ने बताया कि इस पोल के पास हरदम पानी भरा रहने से यहां की जमीन दलदल हो चुकी है और हाल ही में पीडब्ल्यूडी अधिकारियों ने गड्ढे भरने के लिए यहां रेत व गिट्टी डालकर सड़क का लेवल ऊंचा कर दिया था। जिससे बड़े वाहन तारों के संपर्क में आ रहे हैं।अस्पताल के पास भी क्षतिग्रस्त पोलग्रामीणों ने बताया कि सरकारी अस्पताल के पास गत दिनों एक ट्रोला चालक ने ट्रोले को पीछे लेते समय पोल को नीचे से क्षति ग्रस्त कर दिया था। यह क्षेत्र अधिक भीड़ भाड़ वाला होने से कभी भी हादसा हो सकता है। ग्रामीण अशोककुमार ने बताया कि डिस्कॉम कार्मिकों को ध्यान मे होते हुए भी पोल नहीं बदला जा रहा है।हो चुके हैं हादसेगत दिनों सरवाना थाना क्षेत्र के सुराचंद व नारायणपुरा गांव की सीमा में बिजली के तारों के चपेट में आने से तीन जिनों की मौत हो गई थी। वहीं रानीवाड़ा खुर्द में तार टूटने से गोवंश काल के ग्रास बने। इसके बावजूद डिस्कॉम इस ओर ध्यान नहीं दे रहा है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *