Uncategorized

जालोर: कोरोना पॉजिटिव दो मरीज जोधपुर रेफर, सेंपलिंग तेज

अब तक लिये 745 सैम्पल में से 666 नेगेटिव, 4 पॉजिटिव
जालोर. जिले में बुधवार को चार कोरोना पॉजिटिव मिलने के बाद प्रशासन अलर्ट है और पूरे जिले पर नजर रखे हुए है। मुख्य रूप से जिले में आने वाले प्रवासियां के स्वास्थ्य पर लगातार नजर रखी जा रही है। मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. गजेन्द्र सिंह देवल ने बताया कि जिले में बुधवार को 4 व्यक्तियों के कोरोना संक्रमण की रिपोर्ट पॉजिटिव आई थी। संक्रमित व्यक्तियों का उपचार प्रारम्भ कर दिया गया है, जिनमें से 2 को उपचार के लिए जोधपुर रेफर किया गया है। कोरोना संक्रमित व्यक्तियों के सम्पर्क में आये लोगों को संस्थागत क्वॉरंटीन कर सेम्पल लिया जा चुका है एवं कॉन्टेक्ट ट्रैसिंग प्रोटोकॉल के दौरान संक्रमित व्यक्तियों के सम्पर्क में आने वाले अन्य लोगों के बारे में सूचना प्राप्त की जा रही है। संक्रमित व्यक्तियों के गांव में विभाग की टीमों द्वारा फिर से सघन स्क्रीनिंग प्रारम्भ कर दी गई है एवं आईएलआई लक्षण वाले व्यक्तियों को विशेष निगरानी में रखा जा रहा है।
दिए विशेष निर्देश
विभाग के सभी चिकित्साकर्मियों को मुस्तैद रहने के निर्देश दिए गए हैं। जिले की सीमा में प्रवेश कर चुके प्रवासियों को होम अथवा संस्थागत क्वॉरंटीन कर उनके स्वास्थ्य पर लगातार नजर रखने के लिए निर्देशित किया गया है। प्रशासन एवं पुलिस विभाग का सहयोग लेते हुए होम क्वारेन्टाईन किये गये प्रवासियां को सख्ती से क्वॉरंटीन नियमों की पालना करवाने के लिएु चिकित्साकर्मियों को पाबन्द किया गया है।
अब तक इतनी सेंपलिंग
जिले में अब तक कुल 745 सेम्पल लिए गए हैं इनमें से 666 की रिपोर्ट नेगेटिव प्राप्त हुई है, अब तक जिले में 4 व्यक्ति कोरोना पॉजिटिव पाए गए है। जिनमें से सायला ब्लॉक से विराणा गांव के 2, आहोर ब्लॉक से रायथल गांव का 1 एवं नियुक्ति हेतु सीकर से आयी युवती है। 75 सेम्पल जांच के लिए प्रक्रियाधीन हैं।
संदिग्धों पर खास नजर
जिले की सीमा में प्रवेश कर चुके संदेहास्पद व्यक्तियों को घर तथा अधिकृत सेंटर में क्वारेन्टाईन किया जा रहा है। जिले में अब तक 716 लोगों को संस्थागत क्वारेन्टाईन किया गया था। जिनमें से 476 व्यक्तियों के क्वॉरंटीन दिवस पूर्ण होने तथा सेम्पल की रिपोर्ट नेगेटिव आने पर उन्हें डिस्चार्ज कर दिया गया है। वर्तमान में 240 व्यक्तियों को संस्थागत क्वारेन्टाईन कर चिकित्सीय देखभाल में रखा गया है। सर्वे टीमों को होम क्वॉरंटीनकिये गये सभी व्यक्तियों की प्रतिदिन स्वास्थ्य जांच की जा रही है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *