Jalore Politics

सायला पंचायत समिति चुनाव में कौन बनेगा प्रधान, भाजपा-कांग्रेस से किसकी होगी मजबूत दावेदारी… देखिए पूरी न्यूज

पंचायत समिति सायला में प्रधान पद को लेकर प्रत्याशियों की बाड़ेबंदी शुरू
सायला।
पंचायतीराज आम चुनाव 2020 के तहत अंतिम चरणों के चुनाव सम्पन्न होने के साथ ही प्रत्याशियों को अज्ञातवास भेजने का सिलसिला शुरू हो गया है। जिसको लेकर दोनों ही राजनीतिक दलों के पदाधिकारी सक्रिय हो गए है। दरअसल पंचायत समिति सायला में इस बार प्रधान की सीट सामान्य महिला के लिए आरक्षित है तथा कई दिग्गज नेताओं की पत्नियां चुनावी रण में अपना भाग्य आजमा रही है। वही दोनों ही दल अपना-अपना बोर्ड बनाने के दावें कर रहे है। ऐसे में प्रधान पद को लेकर काफी खिंचतान नजर आने की संभावना है।
सायला पंचायत समिति में अपनी जीत को लेकर आश्वस्त भाजपा-कांग्रेस ने अपने सभी प्रत्याशियों से सम्पर्क शुरू कर दिया है एवं बाड़ाबंदी कर अज्ञातवास भेजने की तैयारी शुरू कर दी है। अब सभी की निगाहें 8 दिसम्बर को होने वाली मतगणना पर टिकी हुई है। ऐसे में नतीजों से पहले ही पार्टियों ने अपने-अपने प्रधान बनाने के दावों के साथ ही दौड़-भाग शुरू कर दी है। जिताऊ प्रत्याशियों को अब सुरक्षित जगह पर भेजा जा रहा है। हालांकि भाजपा व कांग्रेस में से सायला पंचायत समिति में प्रधान की सीट पर कौन बैठेगा यह तो चुनाव परिणाम आने के बाद ही तय होगा। लेकिन इस बार चुनाव नतीजों से पूर्व ही लोगो में प्रधान को लेकर अलग अलग कयास लगाने का बाजार गर्म नजर आ रहा है।
कांग्रेस के सम्भावित दावेदार
सायला पंचायत समिति क्षेत्र में कुल 25 वार्ड है। जिनमे से दोनों दल बहुमत मिलने के दावे करते नजर आ रहे है। ऐसे में यदि कांग्रेस को जीत मिलती है तो युवा कांग्रेस के पूर्व कार्यवाह जिलाध्यक्ष शैलेंद्रसिंह भाटी की पत्नी प्रियांशी कंवर, युवा कांग्रेस पूर्व प्रदेश महासचिव सुल्तान खान की पत्नी फिरोज बानो प्रधान पद की उम्मीदवारी जता सकते है। वही बिशनगढ के स्वरूपसिंह बालावत की पत्नी प्रवीणा कंवर एवं आसाणा से एडवोकेट रामसिंह की पत्नी कमलेश कंवर के नामों पर चर्चा भी जोरों पर है।
भाजपा में इन प्रत्याशियों के नामों की चर्चा
भाजपा को बहुमत मिलने पर आलासन से मांगीलाल राजपुरोहित की पत्नी अणसी देवी एवं पूर्व प्रधान रामप्रकाश चैधरी की पत्नी सरोज चैधरी भी अपनी मजबूत दावेदारी जता सकती है। पूर्व प्रधान चैधरी जालोर-सिरोही सांसद देवजी पटेल के करीबी व संगठन में भी सक्रिय है। वही पूर्व जिला उपाध्यक्ष बंशीधर माहेश्वरी की पत्नी वीरी देवी भी प्रधान की उम्मीदवार हो सकती है। साथ ही सरपंच संघ के पूर्व जिलाध्यक्ष वरदसिह की पत्नी मफरी कंवर भी प्रधान की प्रबल दावेदार है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *