In the midst of the danger of corona, the war in the affected area like Jadav Kanwar
Uncategorized

कोरोना के खतरे के बीच भी यौद्धा की तरह प्रभावित क्षेत्र में सेवाएं दे रही जड़ाव कंवर

– भंवरानी क्षेत्र के आस पास के गांवों में कोरोना संक्रमण का खतरा अधिक, लेकिन फिर भी बिना किसी भय के सेवा कार्य में लगी है जड़ाव कंवर
सायला. कोरोना के खतरे के बीच आहोर ब्लॉक के भंवरानी पीएचसी के सराणा सबसेंटर की एएनएम जड़ाव कंवर पत्नी रणजीतसिंह कोरोना वारियर्स के रूप में सेवाएं दे रही है। आमजन की मददगार बरते हुए वह गांव वालों से सीधा समन्वय बनाए हुए अपने क्षेत्र पर नजर रखे हुए है और जरुरतमंदों की मददगार भी बन रही है। एक तरफ कोरोना से पूरा विश्व भयभीत है और इससे बचने के विभिन्न कर रहे हैं। सीधे तौर पर इसे एक भयंकर संक्रमण माना गया है जो कि एक वायरस से फैला है और इससे बचने का एक माध्यम घर पर रहना ही है। लेकिन इन विकट हालातों में भी चिकित्सा महकमे से जुड़े लोग किसी यौद्धा की तरह कोरोना से लडऩे को मैदान में खड़े है। इसी तरह की वॉरियर्स जड़ाव कंवर ने भी आमजन की सेवा को ही अपना ध्येय माना है। जड़ाव का कहना है कि रायथल क्षेत्र में पहले संक्रमित मिले। भंवरानी, रायथल, सराणा समेत आस पास का पूरा क्षेत्र ऐसा है जो एक तरफ बाड़मेर से सटता है। दूसरी तरफ कोरोना के खतरे के बीच इन गांवों में प्रवासी भी पहुंचे है। उनसे संबंधित जानकारी जुटाने के साथ साथ स्क्रीनिंग कार्य में भी वह जुटी हुई है। जड़ाव कंवर ने बताया कि संकट की इस घड़ी में आमजन की सेवा करने पर खुशी है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *