Jalore Religious

मोकणीखेड़ा में दशनाम नवनाथ खट्दर्शन मंडल की बैठक में साधु संतो ने क्या कहा… देखिए पूरी खबर

सायला।
निकटवर्ती मोकणीखेड़ा स्थित दुदेश्वर महादेव मठ में रविवार को दशनाम नवनाथ खट्दर्शन मंडल जालोर की बैठक का आयोजन किया गया। जिसमें साधु महात्माओं द्वारा धार्मिक चर्चा की गई।

निकटवर्ती मोकणीखेडा मे संत समाज की बैठक में उपस्थित साधु संत व श्रद्धालु।

बैठक में साधु संतों ने वर्तमान समय मे धर्म का प्रसार करने एवं भक्तों में जीव दया के प्रति भाव जागृत करने की बात कही। साथ ही सन्तो ने धर्मसभा को सम्बोधित करते हुए कहा कि प्राचीनकाल से सन्त समाज भारतीय वैदिक संस्कृति का प्रतीक रहा है। जो मानव जाति को हमेशा सद्मार्ग की ओर अग्रसर करने का कार्य कर रहे है व धर्म ध्वज को आगे बढ़ा रहे है। वही सभी श्रद्धालुओं को अपनी सन्तान को अच्छे संस्कार देने व धार्मिक कार्यों में भाग लेने के लिए प्रेरित करने की बात कही।

बैठक में अयोध्या में भगवान श्रीराम के भव्य मंदिर निर्माण पर खुशी जताई। साथ ही निर्माणाधीन गुरुकुल की प्रगति के बारे में जानकारी देते हुए बताया कि गुरुकुल में बच्चे अध्ययन करेंगे जिससे उनमें धर्म के प्रति आस्था जागृत होगी तथा संस्कारवान बनेंगे। इस दौरान मंडल की ओर से बैठक आयोजित करवाने पर महंत भोपा भारती का शॉल ओढ़ाकर व माला पहनाकर कर बहुमान किया गया। इस मौके प्रसादी का भी आयोजन किया गया। जिसमें श्रद्धालुओं ने बढ़चढ़ कर भाग लिया। वही बैठक की पूर्व संध्या पर भक्ति संध्या का आयोजन किया गया।

इस दौरान सिरे मन्दिर जालोर गादीपति गंगानाथ महाराज, उम्मेदाबाद महंत आशा भारती, लेटा महंत रणछोड भारती, पुनासा महंत बाबूगिरी महाराज, शंकरस्वरूप महाराज सांथू, प्रेमभारती गजीपुरा, वालेरा महंत पारस भारती महाराज, जागनाथ महंत महेन्द्र भारती, पाण्डगरा महंत पर्बतगिरी महाराज, काशीनाथ करडा, प्रकाशनाथ वणधर, उम्मेदगिरी कोमता, लालभारती मांडवला, शिवगिरि भांडु, राजभारती तुरा, रणछोड पूरी सांथू, रामभारती सहित श्रद्धालु किशन भारती, अर्जुन भारती, केसाराम पुरोहित, लहर भारती, भीखाराम देवासी, ओबाराम देवासी, भैरगिरी आदि मौजूद थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *