crime

खरल नदीक्षेत्र में अचेतावस्था मे मिली युवती की मौत के मामले में आरोपी उम्मेदाबाद पूर्व सरपंच गजाराम गिरफ्तार

सायला।
थानाक्षेत्र के खरल गांव से आलासन जाने वाले रास्ते पर नदीक्षेत्र में अचेतावस्था में मिली युवती की मौत के मामले में पुलिस ने खुलासा करते हुए आरोपी उम्मेदाबाद पूर्व सरपंच गजाराम राणा को गिरफ्तार किया है।
जानकारी के अनुसार गत 5 अक्टूबर 2020 को खरल सरहद मे रास्ते में एक युवती के अचेतावस्था में पडे होने की सूचना मिली थी। जिस पर सायला पुलिस ने मौके पर पहुंचकर युवती को राजकीय सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र सायला पहुंचाया। लेकिन युवती की हालत गंभीर होने पर प्राथमिक उपचार के बाद गुजरात रेफर कर दिया। जहां पर उपचार के दौरान उसकी मौत हो गई। जिस पर सांवलाराम पुत्र केराजी जाति वादी निवासी उम्मेदाबाद पुलिस थाना कोतवाली जालोर द्वारा भतीजी के गत 5 अक्टूबर को सवेरे घर से काम पर जाने के बाद सरहद खरल में आलासन जाने वाले रास्ते पर अचेतावस्था में मिलने पर भतीजी की हत्या करने संबंधी प्रकरण थाना सायला पंजिबद्ध करवाया गया। प्रकरण की गंभीरता को देखते हुए जिला पुलिस अधीक्षक श्यामसिंह के निर्देशानुसार अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक जालोर सत्येन्द्रपालसिंह एवं वृताधिकारी जयदेव सियाग के सुपरविजन मे थानाधिकारी सवाईसिंह के नेतृत्व में टीम गठित की गई। थानाधिकारी सायला मय जाब्ता द्वारा घटनास्थल का मौका मुआयना किया गया तथा मौके से दो मोबाईल फोन भी बरामद किए गए। मृतका के पास मिले मोबाईल फोन के सीडीआर विश्लेषण व अनुसंधान के दौरान पत्रावली पर आये साक्ष्यों से प्रकरण का खुलासा हुआ। टीम द्वारा गहनता से अनुसंधान कर कड़ी से कड़ी जोडकर प्रकरण का पर्दाफाश कर आरोपी पूर्व सरपंच गजाराम पुत्र उदाराम जाति भील निवासी हनुमानजी गली भील बस्ती उम्मेदाबाद को गिरफ्तार किया।
यह था मामला
मृतका व आरोपी पूर्व सरपंच गजाराम पुत्र उदाराम जाति भील निवासी भील बस्ती उम्मेदाबाद के घर एक ही गली में आये हुये है। आरोपी के घर में ही परचून की दुकान है। करीब सालभर से आरोपी द्वारा मृतका से प्रेम-प्रसंग की मोर्बाइल पर बाते करने के दौरान आपसी अनबन होने से मृतका द्वारा आरोपी को गांव में बदनाम करने की बात करने पर आरोपी गजाराम ने रमकू को ठिकाने लगाने का प्लान बनाकर रमकू के मुवमेंट पर निगरानी रखने लगा। आरोपी द्वारा अपना नियमित मोबाईल बंद कर अपने पुराने मोबाईल नम्बर को शुरु कर गत 5 अक्टूम्बर को मृतका गांव की ही एक अन्य महिला के साथ सायला से ओटवाला काम पर जाने की जानकारी होने पर ओटवाला गया। इसी दौरान उस रोज एक महिला का ही काम होने से मृतका के ओटवाला से वापस उम्मेदाबाद आने के दौरान आरोपी गजाराम द्वारा मृतका के मोबाईल से सम्पर्क कर मृतका को उम्मेदाबाद छोड़ने के लिए अपनी मोटरसाईकिल पर बिठाकर खरल से आलासन जाने वाले रास्ते की तरफ ले जाने लगा। इस दौरान मृतका द्वारा विरोध प्रकट करने पर आरोपी द्वारा उसे अपने साथ अकेली होने का मौका देखकर रास्ते में चलती मोटरसाईकिल से धक्का देकर गिराकर मोटरसाईकिल लेकर आलासन रेवतडा की तरफ भाग गया व अपने मोबाईल फोन बंद कर दिया। मृतका की दौराने ईलाज जनरल अस्पताल पालनपुर में मृत्यु हो गई।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *