Uncategorized

कोरोना संक्रमण से बचाव के बारे में कलक्टर ने प्रेस काॅन्फ्रेस में क्या कहा… देखे पूरी खबर

जिला कलेक्टर ने प्रेस काॅफ्रंेस आयोजित कर दिए आवश्यक दिशा निर्देश

जालोर।
जिला कलक्टर हिमांशु गुप्ता ने रविवार को अपने कक्ष में प्रेस काॅफ्रेंस आयोजित कर मीडिया से जिले में कोरोना संक्रमण से बचाव और जिला चिकित्सा व पुलिस प्रशासन द्वारा जनहित में की व्यवस्थाओं के बारे में ग्राउंड रिपोर्ट सुनी और वस्तुस्थिति की जानकारी प्राप्त की।कलक्टर गुप्ता ने जिले को कोरोना संक्रमण से बचाये रखने, स्वास्थ्य जांच प्रबन्धन आदि कई मुद्दों पर मीडिया से चर्चा कर सुझाव लिये और प्रबन्धों के बारे में विस्तार से जानकारी दी। जिस पर मीडिया प्रतिनिधियों ने जिले को कोरोना संक्रमण के प्रभाव से बचाव और इसके लिये किये प्रबन्धों के प्रति संतोष जताया। साथ ही संवेदनशील रहने, जिले में बाहर से आने वाले व्यक्तियों के स्वास्थ्य आदि निगरानी प्रबन्धों को और पुख्ता करने की बात कही।
जिला कलक्टर ने बताया कि कोरोना वायरस संक्रमण एवं बचाव की दृष्टि से जालोर जिला अच्छी स्थिति में है। जिला प्रशासन इस मुद्दे पर 24 घंटे निगरानी रखे हुये है और वे स्वयं क्षेत्र का दौरा कर पाई गई कमियों को दूर करने में सक्रिय हैं। उन्होंने कहा कि जिले की प्रवेश सीमाओं में प्रवेश करने वाले व्यक्तियों, विशेषकर अप्रवासियों के स्वास्थ्य की जांच और उनमें किसी भी प्रकार की खांसी, जुकाम, बुखार आदि लक्षण पाये जाने पर गंभीरता से लिया जा रहा है। उन्होंने कहा कि इस संबंध में प्रशासन को भी काफी चुनौतियां का सामना करना पड़ रहा है। उन्होंने बताया कि 60 से अधिक प्रतिशत व्यक्तियों में तो कोरोना संक्रमण के लक्षण स्वास्थ्य जांच में दिखाई ही नहीं देते हैं। जिला प्रशासन अभी अपना ध्यान मुख्य रूप से इस बात पर ध्यान केंद्रित कर व्यवस्थायें कर रहा है कि कहीं भीड़़ इकट्ठी नहीं हो क्योंकि इससे संक्रमण फैलने का खतरा ज्यादा रहता है। जिला कलक्टर ने आमजन से आग्रह किया है कि उनके घर में यदि कोई व्यक्ति बाहर से आता है तो वे स्वयं भी सतर्क रहें और उसकी स्वास्थ्य जांच करवा लें।
प्रत्येक नागरिक को संवेदनशील बनना होगा
जिला कलक्टर ने कहा कि कोरोना संक्रमण से बचने और स्वस्थ्य रहने के लिये प्रत्येक नागरिक को संवेदनशील बनना होगा और इसके बचाव के संबंध में समय-समय पर जारी की जाने वाली एडवाईजरी की पालना सुनिश्चित करनी होगी। उन्होंने बताया कि कोरोना संक्रमण से बचाव एवं स्वास्थ्य जांच आदि के लिये जिले के शहरी एवं ग्रामीण स्तर तक व्यवस्थाओं को प्रतिदिन और पुख्ता करने के प्रयास किये जा रहे हैं।
प्रत्येक गांव में एक कर्मचारी
जिला कलक्टर ने बताया कि जिले के प्रत्येक गांव में इसकी निगरानी बनाए रखने, बचाव प्रबन्धन को संवेदनशील बनाने के लिये एक कर्मचारी नियुक्त किया गया है। हर ग्राम पंचायत मुख्यालय पर एक प्रभारी, टीचर आदि नियुक्त कर निगरानी रखी जा रही है। प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्रों, चिकित्सा केन्द्रों संस्थाओं को भी इस संबंध में सजग रहने के निर्देश दिये हैं। शहरी एवं जिला मुख्यालय स्तर पर भी इसके लिये सीमित संसाधनों के रहते अच्छी से अच्छी व्यवस्थायें करने के प्रयास किये गये हैं। प्रत्येक उपखंड में संबंधित उपखंड अधिकारी को इस संबंध में विशेष निर्देश हैं।
जन-जन से सहयोग की अपील
कलक्टर ने कोरोना संक्रमण को रोकने एवं बचाव के संबंध में मीडिया से पुरजोर सहयोग की अपेक्षा करते हुए जन-जन से सहयोग की अपील की है। उन्होंने कहा है कि आगामी नवरात्रा या अन्य धार्मिक कार्यक्रमों के आयोजन या किसी भी प्रयोजन से भीड़ इकट्ठी नहीं होने दें। भीड़ से दूर रहंे। धार्मिक स्थान बंद रखें। ग्रामीण स्तर पर छोटे-छोटे मंदिरों व धार्मिक आयोजन आरती आदि कार्यक्रमों में भी 20-25 आदमी इकट्ठे हो जाते हैं। इसे रोकने की महती जरूरत है।
घर में रहें, बाहर नहीं निकलें
जिला कलक्टर ने नागरिकों से अपने घर में रहने एवं अति आवश्यकता होने पर ही घर से बाहर निकलने की अपील कर कहा कि इस वक्त नागरिक परिवारजन घर में रहेंगे उतने ही संक्रमण के प्रभाव से अपने को सुरक्षित रख पायेंगे और स्वस्थ रहेंगे। उन्होंने बताया कि कोरोना संक्रमण की दृष्टि से भारत थर्ड स्टेज पर है, इसे रोकने के लिए जन-जन को जिम्मेदारी समझनी होगी। प्रेस काॅफ्रेंस में कोरोना संक्रमण बचाव प्रबन्धों के बारे में विस्तार से जानकारी देते हुये बताया कि जिले में अब तक एक लाख 18 हजार 964 व्यक्तियों का घर-घर जाकर सर्वे किया जा चुका है। जन जागरण के लिए लगभग 4 लाख पेम्पलेट वितरित किये जा रहे हैं। जिला कलक्टर ने बताया कि इससे बचाव के लिये चिकित्सालय में आईसोलेशन वार्ड बनाये गये हैं। लेटा में 100 पैड का क्वैरेंटाईन सेंटर बनाया गया है। अब 45 हजार 419 मरीजों की स्वास्थ्य जांच व 4783 व्यक्तियों की नजला जुकाम आदि की जांच की गई है।
पुलिस अधीक्षक ने दी पुलिस प्रशासन प्रबन्धों की जानकारी
पुलिस अधीक्षक हिम्मत अभिलाष टांक ने मीडिया को कोरोना वायरस संक्रमण को रोकने के लिये पुलिस प्रशासन द्वारा की गई व्यवस्थाओं की विस्तार से जानकारी देते हुए बताया कि प्रत्येक चैक पोस्ट पर पर्याप्त पुलिस जाब्ता लगाया गया है और निगरानी के पुख्ता प्रबन्ध किये जा गये है। वह स्वयं भी बहुत सजग सतर्क हैं। विभाग कोरोना संक्रमण के बचाव प्रबन्धन सुरक्षा की दृष्टि से मुस्तैद है। अतिरिक्त जिला कलक्टर सी.एल.गोयल मौजूद थे। जिला कलक्टर ने प्रेस काॅफ्रेंस में प्राईवेट संस्थाओं के मालिकों से अपने संस्थान बंद रखने को कहा है और लाॅक डाउन की अवधारणा को भी स्पष्ट किया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *