Uncategorized

कोरोना वायरस की रोकथाम में जुटा है चिकित्सा विभाग

जालोर।
कोरोना वायरस की रोकथाम को लेकर चिकित्सा विभाग मुस्तैदी से जुटा हुआ है। आने वाले प्रवासियांे की लगातार स्क्रीनिंग की जा रही है। स्वास्थ्य कर्मियों द्वारा घर-घर जाकर आमजन को जागरूक किया जा रहा हैै। जिला कलेक्टर हिमांशु गुप्ता के निर्देशानुसार में जिले के सभी विभागों के साथ समन्वय स्थापित कर कार्य योजना का क्रियान्वयन किया जा रहा है।
मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. गजेन्द्र सिंह ने बताया कि अब तक जिले मे 1 लाख 51 हजार 19 से अधिक सदस्यों को सर्वे किया गया है। जिले में आने वाले प्रवासियांे की चैक पोस्ट पर ही स्वास्थ्य जांच की गई एवं प्रवासियांे की लाईन लिस्ट बनाकर उनकी नियमित माॅनिटरिंग की जा रही है। विभाग की ओर से घर-घर जाकर सर्वे करने के लिए 394 दल बनाए गए है। ये दल गांव व कस्बों में घर-घर जाकर आमजन को कोरोना वायरस की रोकथाम की जानकारी देने के साथ जिले में बाहर से आये लोगों की सूचना भी ले रहे हैं। विभाग को बाहर से आने वाले व्यक्ति की सूचना मिलने पर, चिकित्सा विभाग की टीम को भेजकर उसकी स्क्रीनिंग करवाने एवं उस व्यक्ति को 28 दिन तक घर पर रहने के लिए पाबंद किया जा रहा है।
जिले के तीनो सेम्पल आये नेगेटिव
सीएमएचओ डाॅ. देवल ने बताया कि जिले से कोरोना संक्रमण की जांच के लिए जालोर के मांडवला निवासी मगनाराम, आकोली के उम्मेदसिंह तथा देवाड़ा की सुगना के सैम्पल एस.एन. मेडिकल काॅलेज जोधपुर भिजवाये गये थे एवं प्राप्त रिपोर्ट अनुसार तीनो सेम्पल नेगेटिव है।
58 लोगो को किया होम आईसोलेटेड
सीएमएचओ डाॅ. देवल में बताया कि विदेशों एवं कोरोना प्रभावित क्षेत्रों से आये प्रवासियांे को जिले में अबतक 58 लोगों को होम आईसोलेट किया गया है तथा उन व्यक्तियों की जांच की जा चुकी है एवं संबधित टीम द्वारा नियमित फोलोअप किया जा रहा है। जिसमें भीनमाल व चितलवाना में 6-6, जालोर में 8, जसवंतपुरा में 1, रानीवाडा में 1, सायला मंे 1, सांचैर में 35 लोगों को होम आइसोलेट किया गया है। इनमें से भीनमाल 4, सायला 1, जसवंतपुरा 1 समेत कुल 6 व्यक्तियों के आइसोलेशन के 28 दिवस पूर्ण हो चुके है और उनमें कोरोना संक्रमण संबधित कोई लक्षण दिखाई नहीं दिये है।
प्रवासियों की स्क्रीनिंग पर विशेष जोर
डिप्टी सीएमएचओ डॉ एस.के. चैहान ने बताया कि ब्लॉक व गांवों में कोरोना वायरस की रोकथाम को लेकर व्यापक प्रबंध किए गए है। जिले मंे बाहर से आये प्रवासियों की सतर्कता के साथ निगरानी रखने के साथ उनको 28 दिन तक घर पर ही रहने के लिए पाबंद करने पर विशेष जोर दिया जा रहा है ।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *